रिवेरवूड मर्डर केस और अन्य घटनाएं

जब एक दिन रिवरवुड प्राइमरी स्कूल ऑस्ट्रेलिया के बच्चे रेसेस के लिए बाहर  गए तो उन्होनें पाया की उनके प्लेहाउस में किसी इंसान का १.५ लीटर खून भरा हुआ है |

इतने सारा खून होने की वजह से ये साफ़ था की शिकार उठ कर वहां से जा नहीं सकता था | डीएनए टेस्टिंग से उस खून का कभी भी कोई मेल नहीं मिला | 

नंबर ०८८८-८८८-८८८ को एक डरावनी वजह से बंद कर दिया गया …..

पिछले दस सालों में हर शक्स जिसको ये नंबर हासिल हुआ वह  मारा गया | उनमें से २ खतरनाक अपराधी थे जिन्हें शायद मालूम था की ऐसा होगा , पर फिर भी फ़ोन कम्पनियों को ये बात अच्छी नहीं लगी |

——————————————————

जॉर्ज बोएर  जब छोटा था तो वो बड़े होकर न तो रॉक स्टार बनना चाहता था न खिलाड़ी | बल्कि वह बनना चाहता था एक पैर का आदमी | जब तक वह ६८ का नहीं हुआ तब तक उसकी ये इच्छा पूरी नहीं हुई ….

बोएर ने अपने पैर में गोली मार ली | डॉक्टर्स ने कहा की वो उस पैर को बचा सकते हैं , लेकिन बोएर ने फिर भी उन्हें उसे काटने के लिए कहा | बोएर ख़ुशी ख़ुशी एक पेर के साथ ज़िंदगी भर बना रहा |

——————————————————

१८८५ में एक आदमी को अपने भाई की चिट्ठी मिली | लेकिन उसके भाई को मरे १३ साल हो चुके थे …

उस चिट्ठी में लिखा था की वो मानसिक रूप से बीमार है और जल्द ही अपने भाई से मिलने आएगा | जब उस आदमी से अपने भाई का कॉफिन खोदा तो वो पूरी तरह से खली था |

——————————————————

१८३८ में एडगर अल्लन पोए की किताब द नैरेटिव ऑफ़ आर्थर गॉर्डोन पिम ऑफ़ नानटकएट सामने आई | इस किताब में समंदर में फंसे ३ नाविकों द्वारा अपने ही दोस्त को खा लेने की बात कही गयी | ये पोए को भी मालूम नहीं था ये बात कुछ सालों बाद सच हो जायेगी ….

१८८४ में ३ नाविक वाकई में समंदर में फंसने के बाद अपने दोस्त को खाने को मजबूर हो गए , जिसका भी किस्मत से नाम रिचर्ड पार्कर था , और किताब में भी खाए गए आदमी का यही नाम था |

——————————————————

एडवर्ड मोर्डरेक के एक और चेहरा था जो उसके सर के पीछे लगा हुआ था | दूसरा चेहरा बोल नहीं पाता था पर एडवर्ड से अलग हंस और रो सकता था…

एडवर्ड ने इस चेहरे को अपना शैतानी जुडवा बताया | उसने २३ साल की उम्र में खुदखुशी करली जब डॉक्टरों ने कहा की वह इस चेहरे को हटाने में असमर्थ हैं |

——————————————————

स्थानीय लोगों ने रूसी पुरातत्वविदों को मन किया की अगर वह तिमुर जो की महान मंगोल विजेताओं में से एक है की खोपड़ी ले जायेंगे तो जंग छिड जायेगी , लेकिन वह फिर भी नहीं माने और उसे ले गए ….

अगला दिन था जून २२ १९४१ , जिस दिन शुरू हुआ था ऑपरेशन बर्बरोस्सा जिसमें नाजियों ने सोवियत यूनियन पर हमला बोल दिया था | कुछ ही हफ़्तों में हजारों, लाखों लोग मारे गए |

——————————————————

१९४८ में इंडोनेशिया के तट के पास एस एस ओउरांग से अजीब मदद के लिए कॉल आने लगीं | एक आवाज़ सुनायी दी “ सभी अफसर जिनमें कप्तान शामिल हैं मर चुके हैं और चार्टरूम और ब्रिज के आस पास पड़े हैं . शायद सब लोग मर चुके हैं ….”

पास की एक जहाज को मोर्स कोड में सन्देश आया | उसमें लेखा था , “ में मर रहा हूँ “ | जब एक और नाव ने उस जहाज का दौरा किया तो पाया की ओउरांग पर सारे लोग मर चुके थे , आखें खुली थीं और आसमान की तरफ देख रहे थे |

——————————————————

१९९७ में रीता स्विफ्ट ने एक फिल्म रोल साफ़ करवाई जो उसे ज़मीन पर पडी मिली थी | उस फिल्म में १६ फोटो १९६९ के थे लेकिन ३ फोटो बहुत पहले समय के थे ….

ये ३ फोटो किसी पिनहोल कैमरा से लिए गए थे | उसमें मोजूद लोगों ने १८०० में पहने जाने वाले नेटिव अमेरिकन लोगों जैसे कपडे पहने थे |

——————————————————

जापान में एक आदमी ने अपने घर में सुरक्षा कैमरा लगाया क्यूंकि उसे शक था की कोई उसके किचन से कुछ चुरा रहा था | उसे लगा शायद कोई जानवर होगा पर जब उसने फुटेज देखा तो …..

उसे पता चला की हर रात उसकी अलमारी से एक औरत बहार आती थी , खाना खाती थी और नहाती भी थी | वो पिछले एक साल से बिना आदमी की जानकारी के वहां रह रही थी |

——————————————————

१६६९ में किंग लुइस १४ ने एक आदमी को बिना तहकीकात के जेल भेज दिया | उसे हमेशा एक व्हालेबोंन का नकाब पहनना पडता था | क्या किया था उस आदमी ने ….?

किसी को नहीं पता | आज के दिन तक उस आदमी की पहचान किसी को ज्ञात नहीं है | जो भी उसने रजा की खिलाफत में किया वो बहुत ख़राब होगा | उसका नाम भी रजा के साथ ख़तम हो गया |

——————————————————

अप्रैल १९६५ को जिस दिन लिंकन को गोली मारी गयी , लिंकन को सपना आया था जिसमें उनका भविष्य उन्हें दिख गया था ….

सपने में उन्होनें देखा की एक ताबूत के पास एक सैनिक खड़ा है | जब उन्होनें पुछा की कौन ख़तम हो गया है तो सैनिक ने जवाब दिया , “ राष्ट्रपति” |

2 Replies to “रिवेरवूड मर्डर केस और अन्य घटनाएं”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *