सिंदबाद की रहस्य्मयी यात्राएं ( Full Story )

1. सिंदबाद की रहस्य्मयी यात्राएं पार्ट 1

सिंदबाद की पहली यात्रा  जब शहरजाद ने यह कहानी पूरी की तो शहरयार ने, जिसे सारी कहानियाँ बड़ी रोचक लगी थीं, पूछा कि तुम्हें कोई और कहानी भी आती हैं। शहरजाद ने कहा कि बहुत … [Read More…]

2. सिंदबाद की रहस्य्मयी यात्राएं पार्ट 2

सिंदबाद की दूसरी यात्रा मित्रो, पहली यात्रा में मुझ पर जो विपत्तियाँ पड़ी थीं उनके कारण मैंने निश्चय कर लिया था कि अब व्यापार यात्रा न करूँगा और अपने नगर में सुख से रहूँगा। किंतु … [Read More…]

3. सिंदबाद की रहस्य्मयी यात्राएं पार्ट 3

सिंदबाद की तीसरी यात्रा सिंदबाद ने कहा कि घर आकर मैं सुखपूर्वक रहने लगा। कुछ ही दिनों में जैसे पिछली दो यात्राओं के कष्ट और संकट भूल गया और तीसरी यात्रा की तैयारी शुरू कर दी। मैंने बगदाद से … [Read More…]

4. सिंदबाद की रहस्य्मयी यात्राएं पार्ट 4

सिंदबाद की चौथी यात्रा  सिंदबाद ने कहा, कुछ दिन आराम से रहने के बाद मैं पिछले कष्ट और दुख भूल गया था और फिर यह सूझी कि और धन कमाया जाए तथा संसार की विचित्रताएँ और देखी जाएँ। मैंने … [Read More…]

5. सिंदबाद की रहस्य्मयी यात्राएं पार्ट 5

सिंदबाद की पांचवी यात्रा  सिंदबाद ने कहा कि मेरी विचित्र दशा थी। चाहे जितनी मुसीबत पड़े मैं कुछ दिनों के आनंद के बाद उसे भूल जाता था और नई यात्रा के लिए मेरे तलवे खुजाने लगते थे। इस बार भी यही … [Read More…]

6. सिंदबाद की रहस्य्मयी यात्राएं पार्ट 6

सिंदबाद की छठी यात्रा  सिंदबाद ने हिंदबाद और अन्य लोगों से कि आप लोग स्वयं ही सोच सकते हैं कि मुझ पर कैसी मुसीबतें पड़ीं और साथ ही मुझे कितना धन प्राप्त हुआ। मुझे स्वयं इस पर आश्चर्य होता … [Read More…]

7. सिंदबाद की रहस्य्मयी यात्राएं लास्ट पार्ट

सिंदबाद की आखिरी यात्रा  सिंदबाद ने कहा, दोस्तो, मैंने दृढ़ निश्चय किया था कि अब कभी जल यात्रा न करूँगा। मेरी अवस्था भी इतनी हो गई थी कि मैं कहीं आराम के साथ बैठ कर दिन … [Read More…]