Vladimir is an evil

Rs.50.00 Rs.25.00

Sale!
-50%

Vladimir is an evil

Rs.50.00 Rs.25.00

Category: Tag:

Description

Writer – pawan sikarwar

यह कहानी शुरू होती है एक ऐसे क़ातिल से जो कभी नही पकड़ा गया। जिसने भारत के तीन सौ करोड़ रुपये लुटे और यही नही उसने इक्कीस अन्य देशों को भी लुटा। अनगिनत खून किये। आंतकवाद को जन्म देने वाला और रहस्यमयी जिसे किसी ने नही देखा। यह एक ऐसा अंतराष्ट्रीय क़ातिल था जिसने जिंदा पकड़ने वाले को इसे मारने वाले से ज्यादा इनाम दिया जाता। लेकिन आज तक इसको कोई नही पकड़ पाया। इस खूनी का नाम था ब्लादिमीर जो मिलता है एक प्राइवेट डिटेक्टिव करुण नयार और उसके साथी सुजान चटर्जी से। क्या करुण नायर इस रहस्मयी खूनी को पकड़ लेगा या यह रहस्यमयी खूनी जीत जाएगा। इस कहानी में खूनी के द्वरा किये गए कुछ रहस्यमय खून और चोरियों का वर्णन है और कैसे यह खूनी करुण नायर से मिलता है। आइये चलिए इस कहानी के रहस्यमयी खूनी ब्लादिमीर के सफर पर।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Vladimir is an evil”

Your email address will not be published. Required fields are marked *